शांतिपाठ

ganesh1.jpg

सर्वे भवन्तु सुखिनः सर्वे सन्तु निरामया,

सर्वे भद्राणि पश्यन्तु मा कश्चिद् दुख भागभवेत।

ऊँ शांतिः शांतिः शांतिः

One Response

  1. आप कोई भी सवाल पूछ सकते हैं. सवाल तार्किक बहस के लिए न हों. मैं तर्क और बुद्धिविलास में विश्वास नहीं करता.

Comments are closed.

%d bloggers like this: